EV Charging Station: दुकान या घर के बाहर फ्री में लगाएं चार्जिंग स्टेशन, eBikeGo कंपनी का ऑफर

EV Charging Station। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के चलते लोग अब Electric Vehicles खरीदने में रुचि ले रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए कई ऑटोमोबाइल कंपनियों ने Electric Vehicles की बिक्री करना शुरू कर दी है। इलेक्ट्रिक व्हीकल को चलाना पेट्रोल व डीजल गाड़ियों की तुलना में चलाना काफी सस्ता होता है और यह इको फ्रेंडली भी होती हैं। Electric Vehicles के लिए EV चार्जिंग स्टेशन के व्यवसाय से जुड़कर लोग काफी तगड़ा मुनाफा कमा सकते हैं। Electric Vehicles की बिक्री अधिक से अधिक बढ़े, इसलिए EBikeGo Company  ने एक ऑफर की पेशकश की है, जिसमें लोग अपने मकान, दुकान या होस्टल के बाहर मुफ्त में चार्जिंग स्टेशन लगाकर कमाई कर सकते हैं।

ऐसे होंगे यह इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन

EBikeGo कंपनी ने एक पोर्टेबल चार्जर बनाया है, जिसे आराम से दीवार पर या कहीं भी इंस्टॉल किया जा सकता है। कंपनी के ये चार्जिंग स्टेशन इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IOT) इनेबल्ड होंगे, जो WiFi से कनेक्ट होंगे।

Simple One Electric Scooter: सिम्पल वन इलेक्ट्रिक स्कूटर की बुकिंग करें सिर्फ 1947 रूपए में, इसकी टेस्ट राइड भी ले सकेंगे

1 लाख से अधिक चार्जिंग स्टेशन लगाएगी कंपनी

EBikeGo का उद्देश्य देशभर में लगभग 1 लाख से भी अधिक चार्जिंग स्टेशन नेटवर्क बनाना है। इस ओर प्रोत्साहित करने के लिए कंपनी मुफ्त में हॉस्टल, दुकानों या रेजिडेंशियल अपार्टमेंट के बाहर चार्जिंग स्टेशन लगाने का ऑफर दे रही है। EBikeGo Company देश में हर आधा किमी में चार्जिंग स्टेशन लगाने का विशाल लक्ष्य लेकर चल रही है। कंपनी के अनुसार जो लोग अपने होटल या दुकान के बाहर EV Charging Station खोलना चाहते हैं तो उन्हें कोई लागत नहीं लगेगी। साथ ही इससे होने वाली कमाई का एक हिस्सा भी दिया जाएगा।

फिलहाल इन शहरों में कंपनी ने दिया ऑफर

EBikeGo Company ने चार्जिंग स्टेशन खोलने के ऑफर की शुरुआत मुंबई से कर दी है। कुछ ही दिनों में EV चार्जिंग स्टेशन बेंगलुरु, पुणे, नई दिल्ली, हैदराबाद, अमृतसर जैसे कई बड़े शहरों में लगना शुरू हो जाएंगे।

EBikeGo Company में चार्जिंग स्टेशन लगाने के लिए ऐसे करें अप्लाई

सबसे अहम बात ये है कि EV Charging Station खोलने के लिए किसी तरह के लाइसेंस की जरुरत नहीं होती है। इसके लिए कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है। सिर्फ राज्य सरकार से अनुमति लेना होता है। इसके अलावा चार्जिंग स्टेशन खोलने से पहले इलेक्ट्रिकल इंस्पेक्टर एक बार उस क्षेत्र की जांच करता है, जहां EV Charging Station लगाना होता है। यदि आप ईवी चार्जिंग स्टेशन के सभी मानकों को ध्यान में रखकर Charging Station खोलते हैं तो यह इलेक्ट्रिकल इंस्पेक्टर क्लीयरेंस सर्टिफिकेट देता है।

EVTRIC Rise: सिंगल चार्ज पर 110 किमी. की रेंज देगी यह इलेक्ट्रिक बाइक, फीचर्स होंगे खास

दो चार्जिंग स्टेशन के बीच निर्धारित दूरी का पालन

EV Charging Station लगाने में इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि यदि आप अपने मकान या दुकान के बाहर चार्जिंग स्टेशन खोल रहे हैं तो आपके पास के चार्जिंग स्टेशन से आपके चार्जिंग स्टेशन की दूरी मानकों नियमों के अनुरूप है या नहीं। तब ही आप अपना चार्जिंग स्टेशन खोल पाएंगे।

चार्जिंग स्टेशन खोलने की ट्रेनिंग

कंपनी के द्वारा इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलने से पहले ट्रेनिंग भी दी जाएगी, इसमें चार्जिंग स्टेशन को संचालित करने संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा चार्जिंग स्टेशन पर काम करने की नई तकनीकें भी बताई जाएंगी। इस ट्रेनिंग के अंतर्गत मैकेनिज्म, सोलर पावर्ड इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन टेक्नॉलॉजी, इन्फ्रास्ट्रक्चर, सोलर पीवी चार्जिंग कनेक्टिविटी लोड्स, इलेक्ट्रिसिटी टैरिफ जैसे कई बातों की जानकारी दी जाती है।

EV Charging Station खोलने के नियम

देश में चार्जिंग स्टेशन खोलने के लिए नीति आयोग ने राज्य सरकारों के लिए दिशा निर्देश, नीतियां और तय मापदंडों की हैंडबुक जारी की है। इस हैंडबुक को संयुक्त रूप से नीति आयोग, ऊर्जा मंत्रालय, डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी और ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिशिएंसी और वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट इंडिया ने तैयार किया है। इसके तहत राज्य सरकार सभी नियमों को ध्यान में रखते हुए चार्जिंग स्टेशन खोलने की अनुमति प्रदान करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*